JavaScript must be enabled in order for you to use the Site in standard view. However, it seems JavaScript is either disabled or not supported by your browser. To use standard view, enable JavaScript by changing your browser options.

| Last Updated:04/12/2018

Latest News

Archive

बच्चों ने लिया जल संरक्षण का संकल्प

ददाहू (सिरमौर)। विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के सौजन्य से रविवार को रेणुकाजी में हुए 8वें विश्व वैटलेंड दिवस पर विभिन्न स्कूलों के बच्चों ने जल संरक्षण का संकल्प लिया। मुख्यातिथि वन वृत्त नाहन के अरण्यपाल आरके गुप्ता ने कहा कि रेणुका वैटलेंड मानचित्र पर अलग पहचान बना चुका है। यहां जलाशय अपनी अपार सुंदरता को बिखेर रहे हैं। रेणुका वैटलेंड की तुलना देश के किसी भी दूसरे वैटलेंड से नहीं की जा सकती। विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के प्रमुख वैज्ञानिक अधिकारी कामराज कायत ने वैटलेंड की उपयोगिता पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि 2 फरवरी 1997 से पूरे विश्व भर में वैटलेंड का आयोजन किया जाता है। इस दौरान एलीमेंटरी शिक्षा उपनिदेशक केएस पठानिया, विभाग के आरओ ज्ञान चंद चौधरी, रामकुमार वर्मा, वैज्ञानिक चंद्रशेखर, परियोजना समन्वयक दिनेश गुप्ता, हरदेव सिंह, संदीप सेमवाल, मुंशीराम, कमल कुमार के अतिरिक्त बोर्ड के सीईओ रविंद्र गुप्ता भी उपस्थित थे।
विश्व वैटलेंड दिवस पर हुईं विभिन्न प्रतियोगिताओं में 11 स्कूलों के 110 बच्चों ने भाग लिया। भाषण के वरिष्ठ वर्ग में वरिष्ठ स्कूल ददाहू की सोनल प्रथम, वरिष्ठ स्कूल कोटी धमान की मनीषा द्वितीय व वरिष्ठ स्कूल रजाना की सपना तृतीय रहीं। कनिष्ठ वर्ग में एकेएम पब्लिक स्कूल के चैतन्य भारद्वाज प्रथम, रजाना की हिमांशी द्वितीय, कोटी धमान के उज्ज्वल तृतीय रहे। चित्रकला के वरिष्ठ वर्ग में एकेएम स्कूल ददाहू की पूनम प्रथम, जमटा की शिवानी द्वितीय, एकेएम की आस्था तृतीय। आरवीएन की गितिका चौथे स्थान पर रही। कनिष्ठ वर्ग में जमटा के नितीश प्रथम, आरवीएन के पारस द्वितीय, एकेएम की साक्षी तृतीय और प्रेरणा ठाकुर चौथे पर रही।
Amar Ujala (03-02-2014)